सऊदी अरब से भारत आकर विधायक बना 8वीं पास अरबपति, घर में बना रखा है हेलीपैड

291

कहते है ना किस्मत भी उनका साथ देती है जिनका हौसला बुलंद हो। बहुत कम लोगों को मालूम होगा कि मंडी जिले की जोगिंदरनगर विधानसभा क्षेत्र से एक अरबपति निर्दलीय उम्मीदवार प्रकाश राणा सऊदी अरब से चुनाव लड़ने आए थे। उस चुनाव में प्रकाश राणा लगभग 5 हजार वोटों से जीते थे।
राणा का सऊदी अरब में डायमंड का कारोबार है और वे कई कंपनियों के मालिक हैं। वह अपने बेटों को अपना कारोबार सौंपकर कर सउदी अरब से जनता की सेवा के मकसद से हिमाचल अपने पैतृक गांव में स्पैशल चुनाव लड़ने आए थे।

प्रकाश राणा हमेशा अपने गांव हेलिकॉप्टर से ही आते हैं, इसके लिए उन्होंने घर के बाहर हेलीपैड भी बनवाया हुआ है। प्रेम कुमार राणा 10वीं पास हैं। उन्होंने नॉमिनेशन के साथ दिए गए एफिडेविट में अपनी और अपने परिवार की कुल चल-अचल संपत्ति 3 अरब 32 करोड़ रुपए बताई है। प्रकाश 10वीं पास हैं और हमेशा अपने गांव हेलिकॉप्टर से ही आते हैं। इसके लिए उन्होंने घर के बाहर हेलीपैड भी बनवाया हुआ है। 1985 में वे बतौर कर्मचारी सउदी अरब गए थे और उनका वहां करोड़ों का कारोबार है।

सऊदी अरब में पार्टनरशिप में ट्रांसपोर्ट, कंस्ट्रक्शन, डायमंड और इंजीनियरिंग इक्यूप्मेंट्स का कारोबार है। जिसे उनका बड़ा बेटा राहुल राणा संभाल रहा है। प्रकाश के पास सऊदी अरब में करीब 700 भारतीय काम करते हैं। उन्होंने अपने क्षेत्र के करीब 80 लोगों को भी वहां रोजगार दे रखा है।

प्रकाश राणा दिल्ली से हेलिकॉप्टर में अपने गांव आते हैं। उन्होंने गांव में अपने आलीशान बंगले के बाहर हेलिपैड भी बनवा रखा है। उन्होंने बताया कि जब वह सऊदी अरब गए तो उनके माता-पिता गांव में अकेले रह रहे थे।

इसलिए उनके बीमार होने या किसी भी इमरजेंसी के लिए घर के सामने हेलिपैड बनवाया था। 332 करोड़ के मालिक प्रकाश राणा के 47 बैंक अकाउंट हैं। 13 लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसियां हैं, जिनकी इनकी वेल्यू 2.65 करोड़ है।