सरकार का ऐतिहासिक कदम,अब आर्मी ट्रेनिंग लिए बिना नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी- जल्द मिलेगी मंजूरी

72

New Delhi: सरकारी नौकरी की चाह रखने वालों के लिए एक जरूरी खबर है। खबर ये है कि अगर आप भी सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो आपको मिलिट्री ट्रेनिंग लेना अनिवार्य हो सकता है। हालांकि, इस बारे में जल्द ही सरकार एक रोडमैप तैयार करेगा।

जानकारी के मुताबिक, विश्व के कई देशों में मिलिट्री ट्रेनिंग अनिवार्य किया जाएगा यानि सरकारी नौकरी की चाह रखने वालों को मिलिट्री ट्रेनिंग लेना अनिवार्य है। बीजेपी के सीनियर सांसद मेजर बीसी खंडूरी और मुरली मनोहर जोशी की अगुवाई वाली कमिटी ने कहा था कि किसी को केंद्र या राज्य सरकार में सरकारी नौकरी चाहिए, तो उसे कम से कम 5 साल के लिए मिलिट्री ट्रेनिंग लेनी होगी।

फिलहाल आर्मी में लगभग 70 हजार से अधिक पद खाली हैं। इससे जो काम करने वाले हैं उनपर दबाव अधिक है। इसी कमी को पूरी करने के लिए सरकार ने ये योजना बनाई है। कमिटी ने कहा था कि सेना का मनोबल बनाए रखने के लिए सरकार को इस प्रस्ताव पर काम करना चाहिए।

संसदीय कमिटी ने अपनी रिपोर्ट में DOPT (डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल ऐंड ट्रेनिंग) की आलोचना की थी कि वह इस बारे में सही तरीके से काम नहीं कर रहा है। ना ही इस बारे में उचित पहल कर रहा है। कमिटी की रिपोर्ट के आधार पर मोदी सरकार ने इसकी पहल की है। सूत्रों के अनुसार, सरकार का इरादा है कि वह इस मामले में तमाम पक्षों को देखकर इसका फैसला ले।